logo
Assistant Registrar, Academic, AU:
The Viva-Voce of Mr./Ms. Seema Singh,  candidate for the D.Phil. Degree of the University on the subject of his/her thesis titled as, “Psycho Social Correlates of Happiness ” will be held on 07/04/2020 at 12:00 A.M. in the Department of  Psychology., AU: by Prof. Prem Sagar Nath Tripathi  and Prof. Komilla Thapa, Members of the Academic Council are invited to attend but on T.A./D.A. will be paid.
 
Registrar, AU:
In order to contain the spread of Novel corona virus (Covid -19) some precautionary measures are required to be taken by Estate Manager, UOA, In this context , your are requested to ensure proper cleaning and frequent sanitization of the all the department, centers, offices, Particularly of the frequently touched surface.
 
Dean, College Development, AU:
Principal of Constituent College’s are requested to nominate a senior faculty member of their behalf to discuss Associate Professor/Professor Promotion Under CAS and it’s modus operandi with Dean C D. Further communication will follow shortly. With regards , Asst. Registrar.(CD)
 
Head, Department of Political Science, AU
All M.A. -IInd & IVth Semester are hereby informed that forthcoming MID Sem examination is postponed till further order.
 
Incharge, Research Section, AU:
  • The Research Degree Committee in its meeting held on 05.03.2020 has approved the following Admission for Ph.D. degree in Allahabad University proposed by Department /Institute /Centre concern. The name of the Supervisor / Department and Topic of the research scholar are mention in front of their name.........................Click here for more details
 
राष्ट्रीय सेवा योजना,  कार्यक्रम समन्वयक इलाहाबाद विश्वविद्यालय
रोड सेफ्टी क्लब के गठन व क्रियान्वयन हेतु दिनांक 17.03.2020 को परिवहन आयुक्त , उत्तर  प्रदेश श्री धीरज साहू ने 20 जिलों के संभागीय   परिवहन अधिकारी (प्रवर्तन ), राष्ट्रीय  सेवा  योजना कार्यक्रम समन्चयकों   एवं स्वयंसेवी संस्था    सेफ क्लब  के  साथ एन आई सी के माध्यम से  वीडियो  कांफ्रेंस आयोजित की. इलाहाबाद विश्व विद्यालय की कार्यक्रम समन्वयक डॉ  मंजू  सिंह  ने कांफ्रेंस में लिए गए नीतिगत निर्णयों का स्वागत करते हुवे  बताया कि  उत्तर प्रदेश  में 2018 में  सडक दुर्घटना  में 150000 से ज़्यादा लोगों की जान  चली गयी व 450000 से ज़्यादा लोग जख़्मी हुवे. मृतकों व जख़्मी लोगों से सम्बंधित यह आंकड़ा किसी भी बीमारी से ग्रसित लोगों से भी ज़्यादा भयावह है जिसमे युवाओ की संख्या ज़्यादा थी.  अतः विशेषकर युवाओं में परिवहन व यातायात से सम्बंधित नियमों की  जानकारी व कार्यान्वयन  हेतु जागरूकता कार्यक्रम की आवश्यकता है. 20 जिलों  के  आर  टी  ओ  (प्रवर्तन) को इन जिलों  का नोडल ऑफिसर  व विश्वविद्यालय -महाविद्यालयों के   एन एस एस के कार्यक्रम अधिकारियो को  रोड सेफ्टी क्लब का फील्ड ऑफिसर  नियुक्त  किया गया है जिसके  माध्यम  से बढ़ रहे  सड़क दुर्घटनाओं में कमी लाने के लिए व लोगों  को जागरूक करने का प्रयास किया जाएगा।प्रयागराज ए आर टी ओ  प्रशासन श्री सियाराम वर्मा व सुरेश कुमार मौर्या  ने बताया कि बीते दो वर्षों से लगातार विभाग की ओर सड़क सुरक्षा जागरूकता की दिशा में प्रयास किया जा रहा है और कार्रवाई भी हो रही है लेकिन वांछित  परिणाम नहीं मिल रहे हैं। जनवरी माह में सड़क सुरक्षा अभियान के समापन के बाद अब नई पहल की शुरुआत हुई है। अब सभी मंडलीय मुख्यालयों के साथ ही पहले चरण में 20 जिलों में रोड सेफ्टी क्लब की स्थापना हो  गयी  है ।परिवहन आयुक्त  ने बताया कि परिवहन विभाग सभी जिलों में सेव लाइफ  फाउंडेशन व एन एस एस के कार्यक्रम समन्वयको के सहयोग से काम करेगा जिसके जरिये  महाविद्यालयों में "रोड सेफ्टी क्लब" बनाया गया है  सुरक्षित भारत चैलेंजके  तहत यह लक्ष्य निर्धारित किया गया है।20 जिलों के 200 कॉलेजो के स्वयंसेवकों को  सड़क सुरक्षा अभियान के तहत जागरूक करने के लिए पहले चरण में चयन किया गया है । यहां के एन एस एस के  छात्र-छात्राओं को सड़क सुरक्षा अभियान के ब्रांड एंबेसेडर की तरह तैयार किया जायेगा।भारतीय सड़क सुरक्षा अभियान के 2020के अप्रैल से दिसंवर तक  एन एस एस के द्वारा  सड़क सुरक्षा क्लब द्वारा टेक्निकल, मेडिकल, लीगल, व अन्य जागरूकता कार्यक्रमों हेतु  कालेजों में प्रशिक्षण एवं अनुसंधान का कार्य होगा.  यहां सड़क सुरक्षा के क्षेत्र में युवाओं में प्रतिस्पर्धात्मक भावनाओं को जागृत कर उन्हें मार्गदर्शन प्रदान करेंगे। सड़क सुरक्षा क्लब की स्थापना के लिए प्रत्येक कॉलेज के फील्ड प्रोग्राम ऑफिसर को 5000/ रुपये की धनराशि आवंटित की जाएगी. प्रत्येक माह की कार्यविधि स्वयंसेवी संस्था सेव लाइफ फाउंडेशन के वाइस प्रेसिडेंट दीपांशु गुप्ता ने विस्तार से पावर पॉइंट प्रेजेंटेशन द्वारा प्रेजेंट किया.आगामी वर्षों में रोड सेफ्टी क्लब की संख्या 200 से और बढ़ाई जाएगी. वीडियो कांफ्रेंस के दौरान राष्ट्रीय सेवा योजना, युवा कार्यक्रम एवं खेल मंत्रालय भारत सरकार से लखनऊ रीजनल डायरेक्टरेट के युवा अधिकारी श्री  जमुना प्रसाद जी एवं श्री अयोध्या प्रसादजी व अन्य जिलों के कार्यक्रम समन्वयक व संभागीय परिवहन अधिकारी (प्रवर्तन ) उपस्थित रहे.