logo
 
Head, Department of Law, AU:
University of Allahabad is organising an Intra-University Moot Court Competition which is to be held on the 23rd and 24th of November, 2019. The Competition seeks participation from the students of the Faculty of Law as well as the students of the constituent colleges of the University of Allahabad who are enrolled in the five year law course (B.A.LL.B (Hons.). ...............Click here for more details
 
Registrar, AU
With the approval of the Hon'ble Vice-Chancellor, Prof. Ajai Jaitely, Department of Visual Arts and Prof. Santosh Kumar Bhadauria, Department of Hindi are nominated as a Nodal Officer on behalf of University of Allahabad under the programme "Ek Bharat Shreshtha Bharat (EBSB)". All the future communication with MHRD/UGC related to EBSB wiil be done by Nodal Officer. Further Nodal Officer are requested to prepare and send a date wise action plan covering all the activity to MHRD by today. Detail of the activity as received from MHRD is enclosed herewith ready reference.
 
अधीक्षक डॉ राहुल पटेल, सर पी. सी. बी. छात्रावास, इलाहाबाद विश्वविद्यालय
दिनाँक 14 अक्टूबर 2019 को इलाहाबाद विश्वविद्यालय के *सर पी. सी. बी. छात्रावास *में स्नातक के छात्रों को रोज़गार के बेहतर अवसरों के बारे में जागरूक करने हेतु विश्वविद्यालय के प्लेसमेंट सेल, पिरामल फाउंडेशन और छात्रावास प्रशासन के द्वारा एक वृहद इंटरैक्शन कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस अवसर पर विश्वविद्यालय के *प्लेसमेंट अधिकारी डॉ शाश्वत* ने अन्तेवासियों से  स्नातकोपरान्त उपलब्ध उन युक्तियों और अवसरों पर चर्चा की जिनके माध्यम से छात्र एक सम्मानजनक रोज़गार प्राप्त कर सकते हैं। विश्वविद्यालय के *अधिष्ठाता, छात्र कल्याण प्रो. हर्ष कुमार* ने अन्तेवासियों और छात्रों को स्किल डेवेलपमेंट और वर्तमान में प्रतियोगितापूर्ण वातावरण में और जागरूक होने के प्रति  प्रेरित किया। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय के छात्रावासों में बेहतर माहौल देने हेतु विश्वविद्यालय कटिबद्ध है। *पिरामल फाउंडेशन के विशेषज्ञ डॉ निशा शर्मा *और *डॉ स्वाति पटनी *ने अन्तेवासियों को फाउंडेशन की अध्येतावृत्तियों एवं छात्रवृत्ति और उनके हेतु उपलब्ध अन्य अवसरों के विषय में विस्तारपूर्वक बताया। कार्यक्रम में छात्रों ने विशेषज्ञ से सीधे संवाद कर अपनी जिज्ञासाएं शांत की।
 छात्रावास के *अधीक्षक डॉ राहुल पटेल* ने बताया कि छात्रावास में अकादमिक गतिविधियों को उनका सदैव सहयोग मिलेगा और अन्तेवासियों के व्यक्तित्व के संवर्धन हेतु नियमित रूप से खेल और अकादमिक दोनों तरह की गतिविधयों में संतुलन बनाने का पूरा प्रयास होगा। के.पी. यू. सी. छात्रावास के अधीक्षक *डॉ हौसिला सिंह* ने अन्तेवासियों को परिश्रम करने हेतु प्रेरित किया।इस कार्यक्रम में दो सौ के लगभग संख्या में अन्तेवासियों और अन्य छात्रों ने प्रतिभाग किया।कार्यक्रम का *संचालन दुष्यंत कुमार* और धन्यवाद ज्ञापन अधीक्षक डॉ राहुल पटेल ने किया।