logo
परीक्षा नियंत्रक, इ0वि0वि0ः
बी0एस0सी0 भाग -1, 2, 3 द्वितीय परीक्षा सत्र 2019 का परीक्षफल घोषित कर दिया गया है। छात्र/छात्राएं अपनी अंकतालिका दिनांक 04/10/2019 से सम्बन्धित इकाई में प्राप्त करें
 
सचिव, डेलीगेसी, इ0वि0वि0:
सचिव के आदेशानुसार जो भी सक्षम नियमित प्रतिभागी है वह दिनांक 04/10/2019 से 12/10/2019 तक क्रिकेट ट्रायल का फार्म डेलीगेसी कार्यालय से प्राप्त कर सकते है। जिसका नियम इलाहाबाद विश्वविद्यालय की वेबसाइड (www.allduniv.ac.in)  पर देख सकते है।

Section officer, Research Section, AU:

  1. The Viva-Voce of Mr./Ms. Alok Kumar Verma, candidate for the D.Phil. Degree of the University on the subject of his/her thesis titled as, “Ultrasonic and Thermal Properties of the Engineering materials” will be held on 10/10/2019 at 11:00am in the Department of Physics AU: by Prof. Vilas A. Tebhane  and Prof. Raja Ram Yadav, Members of the Academic Council are invited to attend but no T.A./D.A. will be paid
  2. The Viva-Voce of Mr./Ms. Anuradha Palel, candidate for the D.Phil. Degree of the University on the subject of his/her thesis titled as, “Physiological and Biochemical Charactrization of Cyanobacteria Against Arsenic Toxicity” will be held on 11/10/2019 at 11:00am in the Department of Botany : by Prof. Surendra Singh AU and Prof. Sheo mohan Prasad  , Members of the Academic Council are invited to attend but no T.A./D.A. will be paid
  3. The Viva-Voce of Mr./Ms. Premlata Devi, candidate for the D.Phil. Degree of the University on the subject of his/her thesis titled as, “Chandrakanta Ka Katha Sahitya Samkaleen Bhavbodh Evam Shilp Vidhan” will be held on 04/10/2019 at 11:00am in the Department of Hindi  : by Prof. Harishankar Mishra AU and Prof.P.K. Srivastava, Members of the Academic Council are invited to attend but no T.A./D.A. will be paid.
डा.राहुलपटेल,कार्यक्रम अधिकारी, रा.से.यो.  इ.वि.वि .
 दिनाँक 02 अक्टूबर 2019 को इलाहाबाद विश्वविद्यालय के राष्ट्रीय सेवा योजना की इकाई संख्या 5 के स्वयंसेवकों द्वारा गाँधी जी के 150वें जयंती वर्ष उत्सव आयोजन में बड़ी संख्या में उत्साहपूर्वक सहभागिता की गई। कार्यक्रम अधिकारी डॉ राहुल पटेल के निर्देशन में गांधी विचार एवं शांति अध्ययन संस्थान, इ.वि.वि. के गांधी मंडप  में प्रातः 10 बजे स्वयंसेवकों ने सर्वप्रथम गाँधी जी की प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित की। तत्पश्चात स्वयंसेवक उदय सिंह ने "वैश्णव जन तो तेने कहिये जे..भजन प्रस्तुत किया. स्वयंसेवक दुष्यंत कुमार ने रामधुन "रघुपति राघव राजाराम" और देशभक्ति से ओतप्रोत करने वाले गीत की प्रस्तुति की जिसको सभी स्वयंसेवकों और विश्वविद्यालय के शिक्षकों तथा अन्य गणमान्य अतिथियों द्वारा लयबद्ध तरीके से दोहराया गया। इस सत्र में प्रो. वी.के.राय, निदेशक गांधी विचार एवं शांति अध्ययन संस्थान तथा सुप्रसिद्ध राजनीति विज्ञानी ने अपने उदबोधन में स्वयंसेवकों को गाँधी जी के सत्य और अहिंसा के दर्शन के बारे में बताया और उनको गाँधी जी के बताए मार्ग पर चलने हेतु प्रेरित किया। प्रो.मनमोहन कृष्ण, निदेशक प्रवेश एवं प्रख्यात अर्थशास्त्री, प्रो. अनुपम दीक्षित, प्रो. साहेला राशिद, प्रो. उमाकांत यादव, प्रो.आशीष सक्सेना, डॉ राजीव गिरी, डॉ राजेश सिंह, डॉ अविनाश श्रीवास्तव, डॉ खिरोद महाराणा, डॉ अनूप कुमार, डॉ मानाश्री मलिक आदि ने स्वयंसेवकों को आशीर्वाद दिया और उनका उत्साहवर्धन किया। इसके बाद कार्यक्रम अधिकारी डॉ राहुल पटेल ने स्वयंसेवकों को प्लॉगिंग करने, पर्यावरण को स्वच्छ रखने, प्लास्टिक और पॉलीथीन का उपयोग न करने और आम जनमानस को इसके प्रति जागरूक करने की शपथ दिलाई। स्वयंसेवक ने बौद्धिक सत्र में प्रो. बद्रीनारायण, प्रख्यात समाज विज्ञानी और चिंतक, विद्वान दर्शनशास्त्री  प्रो. एच. एस. उपाध्याय, प्रख्यात साहित्यकार प्रो. अली अहमद फ़ातमी एवं प्रो. वी.के.राय के गाँधी दर्शन संबंधी विचारों को सुना। राष्ट्रीय सेवा योजना के आज के इस कार्यक्रम की सबसे अहम बात यह रही कि इसमें माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा विगत सप्ताह अपने 'मन की बात' कार्यक्रम के दौरान कही गई "फिट इंडिया प्लागिंग रन" हेतु 2 किलोमीटर की दौड़ के आयोजन की अपील का अक्षरसः अनुपालन किया गया। दोपहर 12 बजे प्रो. बद्रीनारायण, प्रो. अली अहमद   फ़ातमी और प्रो. वी.के.राय ने इकाई 5 के स्वयंसेवकों को हरी झंडी दिखाकर 2 किलोमीटर की प्लागिंग हेतु रवाना किया। डॉ राहुल पटेल के निर्देशन में बड़ी संख्या में स्वयंसेवकों, शिक्षकों ने गाँधी भवन से बालसन चौराहे पर स्थित गाँधी जी की प्रतिमा तक प्लॉगिंग की और रास्ते में पड़े पॉलीथीन और प्लास्टिक कचरे को अपने साथ लिये हुए कपड़े के थैलों में इकठ्ठा किया। रास्ते भर स्वयंसेवकों ने पॉलिथीन मुक्त भारत बनाने, सिंगल यूज़ प्लास्टिक के उपयोग को बंद करने, पर्यावरण को स्वच्छ रखने, क्लीन इंडिया ग्रीन इंडिया के लिए नारे लगाए और राहगीरों तथा आम जनमानस को इसके प्रति जागरूक किया। कार्यक्रम का समापन राष्ट्रगान से किया गया ............... Clik here for more