logo
ZHindi Text
Director, Faculty Recruitment Cell, AU
NIC made the aadhar optional and also provided one time editing facility in online submitted forms of teaching positions of University of Allahabad through PARIKSHA portal .The last date of submission of form is Oct 8, 2017.
 
Co-ordinator, K.B.C.A.O.S., AU
Candidates desirous of seeking admission in the D.Phil. course of the K. Banerjee Centre of Atmospheric and Ocean Studies (KBCAOS), University of Allahabad, Allahabad and who have qualified for Level-II in CRET-2017 are hereby informed that The Level-II test of eligible candidates shall be held on October 17, 2017 at 03:00 PM in the Centre.
 
अध्यक्ष, संस्कृत विभाग, इ0वि0वि0ः
क्रेट साक्षात्कार पूर्वघोषित तिथि 05/10/2017 को नहीं होगा। अगली तिथि बाद में घोषित की जायेगी।
 
हिंसा मुक्त समाज के निर्माण में यूवा करें योगदानः
आज दिनांक 03 अक्टूबर 2017 को विशिष्ठ व्याख्यान माला के अन्र्तगत जम्मू कश्मीर के स्पेशल डी0जी0पी0 श्री वी0 के0 सिंह ने भावनात्मक बौद्धिकता पर एक विशेष व्याख्यान दिया। कार्यक्रम की अध्यक्षता माननीय कुलपति इलाहाबाद विश्वविद्यालय प्रो0 रतन लाल हाँगलू ने किया।  संवाद परक शैली में व्याख्यान देते हुए श्री सिंह ने घरेलू व समान्य हिंसा को विशेष रूप से स्पष्ट करते हुये भावनात्मक बौद्धिकता के चार प्रकारों पर विशेष बल दिया। इसके लिये स्वयं को जानते हुए अपनी भावनाओं पर नियंत्रण रखते हुए, स्व अनुभूति के साथ सामाजिक सरोकारों का होना आवश्यक है। उन्होने बल देकर कहा कि गरिमा पूर्ण जीवन जीने के लिये गरिमा पूर्ण व्यवाहर अनिवार्य है। उन्होने छात्रों से अपने पुलिस सेवा के अनुभवों को बडे ही रोचक ढंग के साथ साझा किया। कार्यक्रम के प्रारम्भ में कुलपति प्रो0 रतन लाल हाँगलू ने अतिथि का स्वागत अंगवस्त्रम् व स्मृतिचिन्ह देकर सम्मानित किया। कार्यक्रम में प्रो0 बी0 एन0 सिंह, प्रो0 ए0 ए0 फातमी, प्रो0 एन0 के0 शुक्ला, प्रो0 रामसेवक दुबे, प्रो0 हर्ष कुमार, प्रो0 वी0 के0 राय, डाॅ0 पंकज कुमार एवं श्री अमित सिंह आदि उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन एवं धन्यवाद ज्ञापन डाॅ0 प्रदीप शर्मा ने किया।
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
कुलपति ने किया विधि के छात्र -छात्राओं से सीधा संवादः
छात्र-छात्राओं के साथ चल रहे सीधे संवाद की कडी में विधि संकाय के छात्र छात्राओं की समस्याओं एवं सुझाव हेतु कुलपति इलाहाबाद विश्वविद्यालय प्रो0 रतन लाल हाँगलू ने छात्र-छात्राओं से सीधा संवाद किया छात्र-छात्राओं ने अपने विभाग सम्बन्धी कतिपय समस्याओं से कुलपति को अवगत कराया। जिस पर कुलपति महोदय ने बडी गम्भीरता एवं संवेदनशीलता के साथ त्वरित कार्यवाही का आश्वासन दिया। कुलपति ने छात्र-छात्राओं से अपील की कि वह अपने उज्जवल भविष्य के निर्माण के साथ-साथ नये भारत के निर्माण में अपना सकारात्मक योगदान दें जिसमें विश्वविद्यालय प्रशासन का पूर्ण सहयोग रहेगा। इस अवसर पर  कुलानुशासक ने अपील की कि छात्र किसी भी प्रकार की अपवाहों या दुषप्रचार से  प्रभावित न हों। किसी भी समस्या के संदर्भ में छात्र उनसे सीधे सम्पर्क कर सकते हैं।