A- A A+
A
A
logo

निदेशक, आई0पी0एस0, इलाहाबाद विश्वविद्यालय, इलाहाबाद

Januray 10, 2019-1.JPG

प्रयागराज। कुंभ मेला अलिखित संचार का पर्याय है, जिसके प्रचार-प्रसार के लिए किसी उपक्रम की आवश्यकता नहीं होती है। मीडिया इसी अलिखित संचार को नया-नया रूप देकर दुनिया के समक्ष इस तरह रखती है कि लोग इसके वैविध्य से परिचित हो सके । यह बात वरिष्ठ पत्रकार व काशी विद्यापीठ वाराणसी के पूर्व डीन प्रो0राम मोहन पाठक ने कही। प्रो0 पाठक इलाहाबाद विश्वविद्यालय के सेन्टर आॅफ मीडिया स्टडीज में कुंभ मेले में मीडिया कवरेज पर आयोजित कार्यशाला में विद्यार्थियों को सम्बोधित कर रहे थे। प्रो0 पाठक ने कहा कि कुंभ के तीन पक्ष हैं। पहला धार्मिक, दूसरा आध्यात्मिक और तीसरा लौकिक। मीडिया के लिए इसके लौकिक पक्ष को मजबूत करने का उद्देश्य होना चाहिए, ताकि श्रद्धालुओं और कल्पवासियों को प्रशासन की व्यवस्थाओं से परिचित कराया जा सके तथा उन्हें मेले के आकर्षण से जोड़ा जा सके। उन्होंने कहा कि कुंभ नारायण के अवतरित होने का पर्व है और नारायण को अपने भीतर सहेजे लाखों करोड़ों लोग यहां स्वतः ही उपस्थित हो जाते हैं। अतः मीडिया इन लोगों के सहायक के रूप में होनी चाहिए। उन्होंने विद्यार्थियों को कुंभ में मीडिया कवरेज तथा शोध की प्रक्रिया से भी परिचित कराया। सेन्टर आॅफ मीडिया स्टडीज के कोर्स कोआर्डिनेटर डा0 धनंजय चोपड़ा ने कहा कि मीडिया के लिए कुंभ हमेशा से आकर्षण का केन्द्र रहा है। सदी के पहले कुंभ मेले से ही विश्व भर के मीडिया ने जिस तरह रूचि दिखानी शुरू की है, वह हमें बहुत कुछ नया देखने व समझने का अवसर देती है। उन्होंने मीडिया स्डीज के विद्यार्थियों के द्वारा किये जाने वाले कुंभ प्रोजेक्ट व शोध कार्यों की रूप रेखा भी रखी। इस कार्यशाला में कुंभ के धार्मिक पक्ष पर वरिष्ठ पत्रकार व ज्योतिषविद डा0 राम नरेश त्रिपाठी तथा एतिहासिक पक्ष पर इतिहासकार प्रो0 हेरम्ब चतुर्वेदी ने व्याख्यान भी दिया। इस कार्यशाला में बी0ए0, बी0वोक0 तथा एम0वोक0 इन मीडिया स्टडीज के अंतिम सेमेस्टर के विद्यार्थी भाग ले रहे हैं।  इस अवसर पर सेन्टर के सभी अध्यापक उपस्थित थे।

अध्यक्ष, प्राचीन इतिहास, संस्कृति एवं पुरातत्व विभाग, इ0वि0वि0ः
विभाग में एम0ए0 द्वितीय एवं चतुर्थ सेमेस्टर 2018-19 की कक्षाएं नियमित रूप स ेचल रही है। विद्यार्थी समय सारिणी के अनुसार अपनी कक्षाओं में उपस्थित हो समय -सारिणी विभाग सूचना पटट् पर लगी है।