A- A A+
A
A
logo
प्रवेश समन्वयक, एम0टेक0 (अर्थ सिस्टम साइंस), इ0वि0वि0:

एम0टेक0 (अर्थ सिस्टम साइंस) में प्रवेश परीक्षा में प्राप्तांको के आधार पर प्रवेश के इच्छुक अभ्यर्थी सामान्य श्रेणी (65.00 या अधिक ) एवं अनुसूचित जाति (35.00 या अधिक) के अभ्यर्थियों को सूचित किया जाता है कि दिनॉंक 05/09/2018 को विभाग में मूल प्रमाण पत्रों, उनकी छायाप्रतियॉं एवं दो नवीनतम फोटो के साथ उपस्थित होकर निरस्त की गयी अभ्यर्थिता के स्थान पर प्रवेश लें।

 

Section officer, Research Section, AU:

  1. The Viva-Voce of Mr./Ms. Hema, candidate for the D.Phil. Degree of the University on the subject of his/her thesis titled as, “Vidhadhar krit Ekavali: Ek Saneekshatmak Adhyayan.” will be held on September 05, 2018 at 2:00 p.m. at the Department of Sanskrit, A.U., Allahabad. The examination will be conducted by Prof. Krishan Dutt Mishra, and Prof. Suchitra Mitra . Members of the Academic Council are invited to attend but on T.A./D.A. will be paid.
  2. The Viva-Voce of Mr./Ms. Vikas Kumar Shukla, candidate for the D.Phil. Degree of the University on the subject of his/her thesis titled as, “Krishi sakh me Kisan Credit Card Ki Prabhavsheelta Ka Eak Aalochanatmak Mulyankan Allahabad Janppad Ki Phoolpur Tahsil Ke vishesh Sandharbh Me.” will be held on September 06, 2018 at 11:00am. at the Department of Economics, A.U., Allahabad. The examination will be conducted by Prof. N.P.Pathak, and Prof. Prahalad Kumar . Members of the Academic Council are invited to attend but on T.A./D.A. will be paid.
  3. The Viva-Voce of Mr./Ms.Upendra Kumar Shukla, candidate for the D.Phil. Degree of the University on the subject of his/her thesis titled as, “Bharat Mein Chunav Evam Chunav Sudhar (Chhatrapati Shahu Ji Maharaj Nagar ke Vishes Sandarbh Mein.” will be held on September 07, 2018 at 11:00am. at the Department of Political Science, A.U., Allahabad. The examination will be conducted by Prof. T.P.Singh, and Prof. Anuradha Agarwal . Members of the Academic Council are invited to attend but on T.A./D.A. will be paid.
  4. The Viva-Voce of Mr./Ms. Sonal Srivastava, candidate for the D.Phil. Degree of the University on the subject of his/her thesis titled as, “Survival of Different Algae Under Various Stress Condition will be held on September 19, 2018 at 11:00am. at the Department of Botany, A.U., Allahabad. The examination will be conducted by Prof. S.C.Agarwal, and Prof. S.C.Agarwal . Members of the Academic Council are invited to attend but on T.A./D.A. will be paid

 

Head, Department of Law, AU:

A meeting of the Doctoral Prograamme Committee (DPC) will be held on 07/09/2018 at 12:00noon in the Conference Hall, Department of Law, Chatham Lines Campus, University of Allahabad to discuss the certain important matter.

 

 

दिनांक 04/09/2018 को राजनीति विज्ञान विभाग एवं गाॅधी विचार एवं शान्ति अध्ययन केन्द्र के संयुक्त तत्वावधान में विश्वविद्यालय के नार्थ हाॅल ;सीनेट हाउस कैम्पसद्ध में महात्मा गाॅधी जी की 150 वीं जयन्ती के उपलक्ष्य पर विश्ष्टि लेक्चर सिरीज के अन्र्तगत ॅवउमद पद प्दकपंष्े प्दजमससमबजनंस जतंकपजपवदरू । ब्तपजपुनम व िबतपजपबे का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की मुख्य वक्ता आई0आई0ए0एस0, शिमला की पूर्व चेयरपर्सन प्रो0 चन्द्रकला पाडिया ने विस्तार से उक्त विषय पर मौलिक चिन्तन प्रस्तुत किया। प्रो0 पाडिया ने अपने उद्बोधन में भारतीय ज्ञान परम्परा की विशेषताओं को रेखंाकित किया। उन्होंने प्राचीन भारतीय चिन्तन परम्परा को स्त्री सशक्तीकरण के परिप्रेक्ष्य में व्याख्यायित किया। जहां एक ओर उन्होने मनु, कौटिल्य ऋग्वेद, यजुर्वेद इत्यादि को आधार बनाते हुए प्राचीन भारतीय चिन्तन को स्त्रियों की दशा के उपयुक्त माना वहीं दूसरी ओर पाश्चात्य दर्शन की नारीवादी दृष्टिकोण को एकांगी पाया। प्रो0 पाडिया ने अकादमिक जगत से यह भी आह्वान किया कि स्त्री विषयक प्राचीन भारतीय दर्शन के अध्ययन के साथ ही अन्य पक्षों पर भरतीय दृष्टिकोण का अध्ययन होना चाहिए एवं सदैव पाश्चात्य दृष्टिकोण से ही प्रत्येक मुद्दे को नहीं देखा जाना चाहिए। अपने अध्यक्षीय उद्बोधन में विश्वविद्यालय के माननीय कुलपति प्रो0 रतन लाल हांगलू ने प्रो0 पाडिया के उक्त व्याख्यान में उल्लिखित बातों का समर्थन किया एवं साथ ही उन्होनें भरतीय ज्ञान परम्परा के पुनत्र्थान हेतु मौलिक एवं व्यवहारिक पक्षों को उद्घाटित करने पर बल दिया। कार्यक्रम का संचालन प्रो0 एच0के0 शर्मा के द्वारा किया गया एवं धन्यवाद ज्ञापन  प्रो0 अनुराधा अग्रवाल ने किया। कार्यक्रम में विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रार प्रो0 एन0के0 शुक्ला, वित्त अधिकारी सुनील कान्त मिश्र, प्राक्टर प्रो0 राम सेवक दुवे एवं डी0एस0डब्ल्यू0 प्रो0 हर्ष कुमार, प्रो0 स्मिता अग्रवाल , प्रो0 आर0के0सिंह इत्यादि की गरिमामयी उपस्थिति रही।

अध्यक्ष, विधि विभाग, इ0वि0वि0ः

एल0एल0बी0 (आनर्स) प्रथम सेमेस्टर सत्र 2018-19 के सभी परीक्षार्थियों को सूचित किया जाता है कि नयी व्यवस्था, जो चैइस बेस्ट क्रैडिट सिस्टम (सी0बी0सी0एस0) के अनुसार है के अन्र्तगत प्रत्येक छात्र/छात्रा को अपने प्रत्येक प्रश्न पत्र में किन्ही दो विषयों ;टांपिकद्ध पर 3000-3000 शब्द सीमा वाले दो प्रोजेक्ट हस्तलिखित रूप में जमा करना है। प्रत्येक प्रोजेक्ट 20 अंक का होगा। इनमें से श्रेष्ठतर प्रदर्शन वाले प्रोजेक्ट का प्रस्तुतीकरणध्मौखिक परीक्षा विद्यार्थी को सेमेस्टर परीक्षा के पूर्व देना होगा जो 20 अंको का होगा। इस सन्दर्भ में सभी सम्बन्धित विद्यार्थियों को सूचित किया जाता है कि वे अपने प्रत्येक  प्रश्न पत्र हेतु प्रथम प्रोजेक्ट 30/09/2018 तक एवं द्वितीय प्रोजेक्ट 31/10/2018 तक अवश्य जमा कर दें ताकि नवम्बर माह से उनके सभी प्रश्न पत्रों से सम्बन्धित प्रोजेक्टों के प्रस्तुतीकाण/मौखिक परीक्षा का आयोजन किया जा सके। इस तरह प्रत्येक विद्यार्थी के प्रत्येक प्रश्न पत्र में प्रोजेक्ट एवं प्रस्तुतीकरण के कुल मिलाकर 40 अंक होगें जबकि सेमेस्टर परीक्षा 60 अंको की होगी। जिसका प्रारूप् सूचनापट्ट पर चस्पा कर दिया गया है। किसी संशय की स्थिति में विद्यार्थी विभाग के कार्यालय से सम्पर्क करके अपनी शंका का निवारण कर सकतें है।