A- A A+
A
A
logo

 

Section Officer, Research Section AU:
The Viva-Voce of Mr./Ms. Col. Sndeep Nain, candidate for the D.Phil. Degree of the University on the subject of his/her thesis titled as, “Role of the Indian Army in National Building” will be held onMay 17, 2018 at 11:00 am. at the Department of Defence & Strategic Studies, A.U., Allahabad. The examination will be conducted by Prof. A.P.Shukla, and Prof. R.K. Upadhyaya. Members of the Academic Council are invited to attend but no T.A./D.A. will be paid.
 
 
निदेशक, आई0पी0एस0, इ0वि0वि0ः
इलाहाबाद। मीडिया की सबसे बड़ी पहचान उसका जनता से जुड़ाव होना होता है। रेडियो इस पहचान को बनाने में सबसे महत्वपूर्ण उपक्रम है। बदलते समय में रेडियो का विस्तार लगातार हो रहा है और यही वजह है कि नई पीढ़ी को रेडियो के लिए तैयार किया जाना जरूरी है। यह बात प्रख्यात रेडियो विशेषज्ञ व आकाशवाणी, नई दिल्ली की रिपोर्टिंग व फीचर यूनिट की पूर्व प्रमुख सरिता बरारा ने कही। सुश्री बरारा इलाहाबाद विश्वविद्यालय के सेन्टर आॅफ मीडिया स्टडीज में ग्यारह दिवसीय " मर ट्रेनिंग आॅन रेडियो एण्ड वीडियो प्रोडक्शन " का उद्घाटन कर कर रहीं थी। बी.वोक. व एम.वोक. इन मीडिया स्टडीज के विद्यार्थियों के लिए 30 मई 2018 तक चलने वाले रेडियो समर स्कूल में सुश्री बरारा ने कहा कि रेडियो एक ऐसा मीडिया उपक्रम है जिसमें क्रिएटिविटी और इंटरैक्टिविटी की अपार संभावनाएं होती हैं। नये रेडियो चैनलों के आने से मीडिया के इस क्षेत्र में रोजगार भी बढ़ेंगे। वरिष्ठ टेलीविजन पत्रकार छत्रपति शिवाजी ने कहा कि हमारे समय में मीडिया के सभी उपक्रम एक साथ कार्य कर रहे हैं। यही वजह है कि आज के समय में मल्टी टास्किंग जर्नलिस्ट की डिमांड बढी है। उद्घाटन सत्र की अध्यक्षता करते हुए इंस्टीट्यूट आॅफ प्रोफेशनल स्टडीज की निदेशक प्रो0 नीलम यादव ने कहा कि वर्तमान समय में पत्रकारिता के समक्ष चुनौतियाँ बढ़ी हैं। सबसे बड़ी चुनौती तकनीकी के विकास और उसकी विश्वसनीयता को लेकर है। पत्रकारिता के विद्यार्थियों को इसके लिए अपने आपको तैयार करना चाहिए।  कार्यक्रम के प्रारम्भ में सेण्टर के कोर्स कोआर्डिनेटर डा0 धनंजय चोपड़ा ने ग्यारह दिवसीय समर स्कूल की रूपरेखा रखी। उन्होंने बताया कि समर स्कूल के दौरान जो विशेषज्ञ उपस्थित रहेंगे उनमें बी0बी0सी0 हिन्दी सर्विस, नई दिल्ली के डेस्क एडिटर रेहान फजल, आकाशवाणी, नई दिल्ली की सहायक निदेशक रितु राजपूत, एफ0म0 विशेषज्ञए आकाशवाणी के एम.नल रेनबोए लखनऊ के प्रभारी अनुपम पाठक, वरिष्ठ फिल्मकार मतिउर रहमान, वरिष्ठ वीडियो जर्नलिस्ट पूनम चैरसिया, टेलीविजन एंकर शरद अवस्थी तथा कार्पोरेट वीडियो मेकर अभिनय खोपरजी आदि शामिल हैं। इस अवसर पर सेन्टर के अध्यापक विद्यासागर मिश्रए सचिन मेहरोत्रा, अमित मौर्या, डा0 ऋतु माथुर, शशांक त्रिपाठी तथा पारूल भार्गव सहित सेन्टर के स्टाफ सदस्य उपस्थित थे।