A- A A+
A
A
logo

Head, Department of Sanskrit, AU:

All Research scholars are required to submit progress report of research work done by them

till March 31, 2018 last date for submission of the report in office for the department is April 10, 2018.

 

अध्यक्ष, भूगोल विभाग, इ0वि0वि0ः

भूगोल विभाग के एम0ए0/म0एस0सी0 द्वितीय व चतुर्थ सेमेस्टर सत्र 2017-18 के छात्रों को सूचित किया जाता है कि निम्न प्रश्नपत्रों की टी-1 टेस्ट दिनांक 26 मार्च 2018 को प्रो0 ए0आर0सिद्दीकी द्वारा सुनिश्चित किया गया है। एम0ए0/म0एस0सी0 द्वितीय सेमेस्टर –Urban Geography  एम0ए0/म0एस0सी0 चतुर्थ सेमेस्टर -Urban/Regional Planning
 
स्ंयुक्त कुलसचिव (परीक्षा), इ0वि0वि0ः
बी0काम0 तृतीय वर्ष सत्र 2018 की मौखिक परीक्षा दिनांक 04 एवं 05 अप्रैल 2018 को प्रातः 09ः00 बजे से वाणिज्य विभाग, इलाहाबाद विश्वविद्यालय में प्रारम्भ होगी। विस्तृत जानकारी हेतु समस्त यूनिट के परीक्षार्थी वाणिज्य विभाग में सम्पर्क करें।
 
परीक्षा नियंत्रक, इ0वि0वि0ः
एल0एल0एम0 द्वितीय सेमेस्टर सत्र 2017-18 में सी0बी0सी0एस0 (ब्ठब्ै) प्रणाली के अन्र्तगत द्वितीय परीक्षा हेतु अर्ह छात्र/छात्राओं को सूचित किया जाता है  कि वे निर्धारित प्रक्रिया के तहत अपना आवेदन पत्र एवं शुल्क दिनांक 26.03.2018 से 30.03.2018 तक सम्बन्धित इकाई में जमा करें।
 
अध्यक्ष, अर्थशास्त्र विभाग, इ0वि0वि0ः
इलाहाबाद विश्वविद्यालय के अर्थशास्त्र विभाग द्वारा "नगदी रहित अर्थव्यवस्था की दिशा में उत्कृष्ट पहल: मुद्दे और चुनौतियां" विषय पर राष्ट्रीय संगोष्ठी
ज्ञातव्य है कि इलाहाबाद विश्वविद्यालय का अर्थशास्त्र विभाग आगामी 23-24 मार्च को 'नगदी रहित अर्थव्यवस्था और भारत में वित्तीय समावेशन: मुद्दे एवं चुनौतियां' विषय पर दो दिवसीय राष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन करने जा रहा हैए जिसमें देश के अनेक प्रख्यात अर्थविद एवं  विद्वान सहभागी होगे। आयोजन का मुख्य उद्देश्य नगदी रहित अर्थव्यवस्था की नीतियों का वित्तीय समावेशन पर प्रभावए वित्तीय समावेशन के मांग और पूर्ति पक्षीय समाधानो एवं वैयक्तिक सेवाओं से सम्बन्धित ई. अपराधों/साइबर अपराधों इत्यादि मुद्दो पर विचार करना होगा। आयोजन के उपविषयों में "वित्तीय समावेशन एवं विमुद्रीकरण के लिए वर्तमान नीतियों का मूल्यांकन, वित्तीय साक्षरता एवं सजगता, वित्तीय क्षेत्र में तकनीकि विकास जैसे मुद्दों को शामिल किया जाएगा। सम्मेलन में अनेक सत्रों के माध्यम से विभिन्न आयामों पर विद्वानों द्वारा शोधपत्र प्रस्तुत किये जाने है जिसके अन्तर्गत सम्मेलन की शुरूआत 23 मार्च, 2018 प्रातः 10 बजे विभागाध्यक्ष, अर्थशास्त्र विभागए इलाहाबाद विश्वविद्यालय प्रो. गिरीश चन्द्र त्रिपाठी के स्वागत भाषण के साथ होगी, जिसके बाद सम्मेलन के मुख्य आयोजक सचिव डा. करीमउल्लाह सम्मेलन के मुख्य विषय पर प्रकाश डालेंगे। डा. हरीसिंह गौर केन्द्रीय विश्वविद्यालय, सागर के कुलपति प्रो. आर.पी. तिवारी आयोजन के मुख्य अतिथि होंगे जिनके द्वारा उद्घाटन भाषण प्रस्तुत किया जाएगा। इसके बाद नाबार्ड के जनरल मैनेजर  श्री मनोमय मुखर्जी के द्वारा आधार वक्तव्य एवं इलाहाबाद विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. के. एस. मिश्र के द्वारा अध्यक्षीय भाषण प्रस्तुत किया जाएगा। इसके बाद अनेक पैनल सत्रों और तकनीकि सत्रों का आयोजन किया जायेगा। जिसमे विभिन्न संस्थानों के और विश्वविद्यालयों से आए हुए विद्वानों और शोधार्थियो के द्वारा अपने.अपने विचारों और शोधपत्रों का प्रस्तुतीकरण होगा। मुख्य रूप से जे.स. उपाध्याय, डी.जी.एम. नाबार्ड, लखनऊ, प्रो. बी. मजूमदार, जी. बी. पन्त सामाजिक विज्ञान संस्थान झॅेूसी प्रो. के. एस. शुक्ला, प्रो. केवल जैन, प्रो. निधी त्रिपाठी एवं प्रो. ए. आर. त्रिपाठी आदि  विद्वान उपस्थित रहेंगे।
 
NATIONAL CONFERENCE 23-24 MAR 18 CASHLESS ECONOMY AND FINANCIAL INCLUSION IN INDIA: ISSUES AND CHALLENGES

“GO CASHLESS, GO GREEN” is the slogan being widely disseminated by the present government and the economist will be the focal topic of the National Conference being conducted by Department of Economics at Allahabad University on 23-24 Mar 18. The conference will witness sharing of thoughts and vision by more than 100 distinguished scholars. The conference will quest to address the major issues and huddles faced by the present government and organisations in promulgating the concept of cashless economy. The concern of financial inclusion and how to embrace the underprivileged population under the same umbrella will also be discussed in the conference. The conference is scheduled to commence at 10:00 hrs on 23 Mar 18 with the ‘Welcome Address’of Prof. G.C. Tripathi, Head, Economics Department, Allahabad University. Dr. Karimullah, Organising Secretary will introduce ‘Theme of the Conference’ to the dignitaries.Vice-Chancellor of Dr. Hari Singh Gaur Vishwavidyalaya, A Central University Prof R.P. Tiwari will do the honour of delivering ‘Inaugural Address’. Shri Monomoy Mukherjee, General Manager, NABARD will do the ‘Keynote Address’. Presidential Address will be carried out by Prof. K.S. Mishra, Vice-Chancellor, Allahabad A Central University. “Constraints of Cashless Economy in India: The Path Ahead” will be the topic of Panel Discussion. The panel will be chaired by Prof. Alka Agarwal, Former Dean, Faculty of Commerce, Allahabad University. Following will be the discussants in the panel discussion:- Shri J. S. Upadhyay, (DGM) NABARD, Lucknow, Prof. B. Mazumdar, GBPSSI, Jhushi,  Allahabad, Prof. S.K. Shukla, Prof. Keval Jain, Prof. Nidhi Tripathi, Prof. A.R. Tripathi.